जीवा कुमार सहित ये पांच दिग्गज डिफेंडर्स इस सीजन रहे हैं बेअसर


Pro Kabaddi League 2021-22, Legend defenders are out of form: प्रो कबड्डी लीग सीजन 8 में अभी तक सिर्फ दो ही टीमें मैच में सिर्फ दो बार 50 अंक के आंकड़े को छू सकी है. पहले दबंग दिल्ली केसी (Dabang Delhi Kc) ने बंगाल वॉरियर्स (Bengal Warriors) के खिलाफ 52 अंकों का स्कोर खड़ा किया. इसके बाद बेंगलुरु बुल्स (Bengaluru Bulls) ने दबंग दिल्ली के खिलाफ इस सीजन का सबसे बड़ा स्कोर खड़ा किया और 61-22 से जीत हासिल की. इसके अलावा कोई भी ऐसा मुकाबला नहीं हुआ है, जिसमें किसी टीम ने 50 के आंकड़े को पार किया है. बावजूद इसके इस सीजन अभी तक सिर्फ सुरजीत सिंह (Surjeet Singh) ऐसे खिलाड़ी हैं, जो 30 टैकल प्वाइंट हासिल कर पाए हैं. लेकिन कुछ ऐसे दिग्गज डिफेंडर्स भी है, जो इस सीजन प्रभावित नही कर पाए हैं.

जीवा कुमार

भले ही दबंग दिल्ली ने इस सीनज शानदार प्रदर्शन किया हो, लेकिन उनकी डिफेंस के सबसे बड़े स्टार जीवा कुमार (Jeeva Kumar) अभी तक अपनी रंग में नहीं लौटे हैं. जीवा इस सीजन दिल्ली के लिए सभी 9 मुकाबलों में मैट पर उतरे हैं लेकिन सिर्फ 9 अंक हासिल कर पाए हैं. प्रो कबड्डी के इतिहास में 100 से अधिक शिकार करने वाले जीवा कुमार इस सीजन पूरी तरह से असफल रहे हैं.

रविंदर पहल

गुजरात जायंट्स (Gujarat Giants) के सबसे बड़े स्टार रविंदर पहल (Ravinder Pahal) का फॉर्म भी इस सीजन साथ नहीं दे रहा है. प्रो कबड्डी के इतिहास में बड़े बड़े रेडर्स को धूल चटाने वाले रविंदर इस सीजन 6 मैचों में सिर्फ 10 टैकल प्वाइंट हासिल कर पाए हैं. रविंदर पहल इतिहास के सबसे बड़े दूसरे डिफेंडर हैं और 300 से अधिक टैकल प्वाइंट्स हासिल कर चुके हैं.

परवेश भैंसवाल

साल 2016 में जयपुर पिंक पैंथर्स के साथ अपने प्रो कबड्डी करियर का आगाज करने वाले परवेश भैंसवाल (Parvesh Bhainswal) आते ही प्रो कबड्डी के सबसे बड़े डिफेंडर्स में शुमार होने लगे. अपने शानदार डिफेंसिव स्कील के लिए जाने जाने वाले परवेश का फॉर्म भी इस सीजन उनसे दूर ही रहा है. सिर्फ 4 सीजन में 190 से अधिक टैकल प्वाइंट हासिल करने वाले भैंसवाल इस सीजन सिर्फ 13 टैकल प्वाइंस हासिल कर पाए हैं.

जोगिंदर नरवाल

प्रो कबड्डी के इतिहास में 170 से अधिक टैकल प्वाइंट हासिल करने वाले जोगिंदर इस सीजन खामोश रहे हैं. दबंग दिल्ली की अगुवाई कर रहे जोगिंदर नरवाल (Joginder Narwal) ने 9 मुकाबलो में सिर्फ 12 टैकल प्वाइंट हासिल किया है. दबंग दिल्ली के खिलाफ ही इस सीजन का सबसे बड़ा स्कोर बना है, जब बेंगलुरु बुल्स ने 61-22 के अंतर से जीत दर्ज की थी.

धर्मराज चेरालाथन

46 साल की उम्र का ये खिलाड़ी पिछले कुछ सीजन में रेडर्स के लिए अलग ही चुनौती हुई करता था लेकिन इस सीजन धर्मराज चेरालाथन (Dharmaraj Cheranathan) नहीं चल पाए हैं. इतिहास में 230 से भी अधिक टैकल प्वाइंट हासिल करने वाले भारतीय कबड्डी खिलाड़ी प्रो कबड्डी लीग में जयपुर पिंक पैंथर्स (Jaipur Pink Panthers) का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और अभी तक तीन मुकाबलो में सिर्फ 2 अंक हासिल कर पाए हैं.

Pro Kabaddi League 2021-22: IPL के तर्ज पर प्रो कबड्डी लीग में भी होगी बेस्ट रेडर और बेस्ट डिफेंडर की पहचान, मैट पर इस रंग के स्लीव्स पहनेंगे खिलाड़ी

Pro Kabaddi League: इस सीजन कई नए रिकॉर्ड बनाने वाले नवीन कुमार ने परदीप नरवाल और मनिंदर सिंह को भी छोड़ा पीछे



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *