खिलाड़ियों के संन्यास से परेशान हुआ श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड, बनाया ये कठोर नियम


Sri Lanka Cricket: श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड एक के बाद अपने खिलाड़ियों के संन्यास से परेशान हो चुका है. अब बोर्ड ने इस संबंध में एक नया नियम लागू कर दिया है. यहां अब खिलाड़ियों को रिटायर होने के लिए तीन महीने पहले नोटिस देना होगा. इसके अलावा उन्हें अनापत्ति प्रमाण पत्र (NOC) प्राप्त करने के लिए छह महीने इंतजार भी करना होगा.

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड उन्हीं खिलाड़ियों को अन्य देशों की टी20 लीग में खेलने की अनुमति देगा जो इस प्रोसेस के तहत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेंगे. इसके अलावा लंका प्रीमियर लीग खेलने की योग्यता हासिल करने के लिए भी श्रीलंका के खिलाड़ियों को 80 फीसदी घरेलू क्रिकेट खेलना होगा.

Cricket & Social Media: बेटी से डांस सीखते नजर आए David Warner, अजीबोगरीब स्टेप्स देखकर नहीं रोक पाएंगे हंसी

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड का यह कठोर नियम दनुष्का गुणाथिलका और भानुका राजपक्षे के अचानक क्रिकेट से संन्यास की घोषणा के बाद आया है. भानुका ने हाल ही में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कह दिया है. वहीं गुणाथिलका ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया है. एक स्पोर्ट्स वेबसाइट की रिपोर्ट में यह भी सामने आया था कि श्रीलंका के कुछ अन्य खिलाड़ी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने पर विचार कर रहे हैं.

श्रीलंका के क्रिकेटर्स का इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का बड़ा कारण अन्य देशों में चल रहे फ्रेंचाइजी क्रिकेट को माना जा रहा है. अच्छा पैसा और नाम मिलने के कारण यहां के युवा खिलाड़ी देश की ओर से क्रिकेट खेलना छोड़कर आईपीएल, बिग बैश जैसी लीगों में खेलना चाह रहे हैं. हाल ही में श्रीलंका के कई युवा क्रिकेटर देश छोड़कर अमेरिका भी चले गए हैं.

ICC Player of the Month: दिसंबर के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के लिए ये तीन खिलाड़ी हुए नॉमिनेट, अपने फेवरेट को जिताने के लिए ऐसे करें वोट



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *