सिराज की जगह टीम इंडिया इस दिग्गज तेज गेंदबाज को देगी मौका


South Africa vs India 3rd Test Newlands Cape Town: भारतीय टीम प्रबंधन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के निर्णायक और अंतिम टेस्ट मैच के लिए जब मैदान में टीम उतारेगी तो चोटिल मोहम्मद सिराज की जगह के लिए ईशांत शर्मा का अनुभव उमेश यादव के शानदार आउटस्विंगर डालने की क्षमता पर भारी पड़ सकता है. दूसरे टेस्ट के पहले दिन गेंदबाजी के दौरान सिराज की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया था, जिसके कारण वह पूरे मैच के दौरान सिर्फ 15.5 ओवर ही गेंदबाजी कर सके थे. कोच राहुल द्रविड़ ने स्वीकार किया कि उनकी चोट ने चौथी पारी में 240 रनों का बचाव करते हुए टीम की रणनीति को प्रभावित किया.

भारतीय टीम 11 जनवरी को न्यूलैंड्स में खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट मैच के लिए जब मैदान में उतरेगी तो उसके पास सिराज के विकल्प के रूप में दो अनुभवी गेंदबाज मौजूद होंगे. इसमें 33 साल के इशांत सर्वश्रेष्ठ लय में नहीं है लेकिन उन्हें 100 से ज्यादा टेस्ट मैचों का अनुभव है. दूसरा विकल्प 34 साल के उमेश का है जिनके नाम 51 टेस्ट है और हाल के दिनों में उनका प्रदर्शन इशांत से बेहतर रहा है लेकिन उम्र बढ़ने के साथ उनकी गति में गिरावट आयी है.

अगले मैच में उम्मीद है कि कप्तान विराट कोहली चोट से वापसी करेंगे. इस बात की संभावना अधिक है कि वह और कोच द्रविड़ दिल्ली के तेज गेंदबाज को उमेश पर तरजीह देंगे. इसका सबसे बड़ा कारण यह हो सकता है कि इशांत का कद छह फीट तीन इंच है और उनकी लंबाई दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को परेशान कर सकती है. दक्षिण अफ्रीका के लंबे कद के गेंदबाज मार्को जानसेन और डुआने ओलीवियर इस श्रृंखला में इसका फायदा उठाने में सफल रहे है.

IND vs SA 3rd Test: भारत के इस बैट्समैन के नाम दर्ज है केपटाउन में सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने का रिकॉर्ड

द्रविड़ ने कहा था, ”ऐसा लगा जैसे गेंद उनके लिए थोड़ा अधिक हरकत कर रही थी. इसका कारण उनके गेंदबाजों का लंबा कद हो सकता है.”

IND vs SA Test: केपटाउन में सचिन-अजहरुद्दीन के शतक के बाद भी टेस्ट हार गई थी टीम इंडिया, दूसरी पारी में ऐसे पलटा पासा

यहां तक कि चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने भी इस बात पर सहमति जताई कि ईशांत को मौका मिलना चाहिए. उन्होंने न्यूज एजेंसी से कहा, टटहमें जोहान्सबर्ग में एक लंबे तेज गेंदबाज की कमी महसूस हुई.  हमारे पास केवल ईशांत है. इस तरह की पिचों पर मैं उन्हें उमेश से आगे रखूंगा. अगर यह एक भारतीय पिच होती तो उमेश पहली पसंद होते.”



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *