अब रवि शास्त्री ने गांगुली को लेकर दिया बड़ा बयान, बताया क्यों हुआ कोहली की कप्तानी पर विवाद ! 


Team India: विराट कोहली (Virat Kohli) और बीसीसीआई (BCCI) के बीच कप्तानी को लेकर चल रहा विवाद थमता हुआ नजर नहीं आ रहा. पहले कोहली ने प्रेस कांफ्रेंस कर बीसीसीआई पर बिना उनसे पूछे वनडे की कप्तानी से हटाने का आरोप लगाया था. इसके बाद पिछले दिनों चीफ सिलेक्टर चेतन शर्मा (Chetan Sharma) ने कोहली के दावे को खारिज किया था. अब इस मामले पर टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का बड़ा बयान सामने आया है. शास्त्री ने बताया है कि आखिर किस तरह इस मामले को पहले ही निपटाया जा सकता था. इसके साथ ही उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली से इस मामले पर बयान देने की मांग की. 

जानें क्या बोले रवि शास्त्री

रवि शास्त्री ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि इस मामले को बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था. अगर कोहली और बोर्ड के बीच पहले इस मामले पर चर्चा हो जाती तो शायद बात यहां तक नहीं पहुंचती. शास्त्री ने कहा कि अब कोहली ने अपनी बात सबके सामने रख दी है और सौरव गांगुली को भी अपनी बात रखनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सच सभी के सामने आना चाहिए. लेकिन इसके लिए दोनों पक्षों के बीच संवाद होना चाहिए. गौरतलब है कि विराट कोहली को वनडे की कप्तानी से हटाने के फैसले पर शास्त्री पहले भी अपनी राय जाहिर करते रहे हैं. पहले उन्होंने बीसीसीआई के फैसले की तारीफ की थी. 

IND vs SA: चेतेश्वर पुजारा ने खोला ‘फॉर्म’ में लौटने का ‘राज’ ! बताया किस दिग्गज की मदद से लय में आ रहे वापस

विराट के साथ अपने बॉन्ड पर यह कहा

जब रवि शास्त्री से उनके और विराट कोहली के बीच संबंधों को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनके बीच काफी अच्छे संबंध रहे हैं. लोग कुछ भी कहें लेकिन विराट और उन्होंने पेशेवर तरीके से अपना काम किया. रवि शास्त्री ने कहा कि उनकी और विराट कोहली की सोच काफी मिलती है. उन्हें कोहली का मैदान पर आक्रामक रवैया भी काफी पसंद आता है. रवि शास्त्री ने बताया कि वे भी अपने शुरुआती करियर में कोहली की तरह आक्रामक रवैया रखते थे. 

यह भी पढ़ेंः Quinton de Kock बने पिता, सोशल मीडिया पर शेयर की खुशखबरी, जानिए क्या रखा बेटी का नाम



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *