जब सचिन के सामने ढेर हो गए थे ऑस्ट्रेलिया शेर, तेंदुलकर ने जड़ा था नाबाद दोहरा शतक


Sachin Tendulkar Double Century In Sydney Test: जब भारत के किसी मैच में सचिन तेंदुलकर मैदान पर उतरते थे तो स्टेडियम में एक समय तक ‘सचिन…सचिन’ की आवाज सुनाई देना सामान्य हो गया था. यह वह मुकाम था जो सचिन ने कड़ी मेहनत और लगन से हासिल किया था. उन्होंने 1989 में डेब्यू किया और फिर अपने प्रदर्शन के दम पर दुनिया में छा गए. सचिन को कई बार घनघोर आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा, लेकिन उन्होंने हमेशा अपने बल्ले से लोगों को करारा जवाब दिया. सचिन की एक ऐसी ही पारी उनके फैंस हमेशा याद रखेंगे. पढ़िए वह किस्सा जब सचिन के सामने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने घुटने टेक दिए थे…

साल 2003. भारतीय क्रिकेट टीम सौरव गांगुली की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया पहुंची. दिसंबर का महीना था और दादा टीम इंडिया के सॉलिड कप्तान. यहां चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जानी थी. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 दिसंबर से खेला गया टेस्ट मैच ड्रॉ रहा. दूसरे में टीम इंडिया ने 4 विकेट से शानदार जीत हासिल की. लेकिन तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने उलटफेर करते हुए मैच जीत लिया. अब बारी थी सीरीज के चौथे और आखिरी टेस्ट मैच की.

सिडनी का मैदान. तारीख 2 जनवरी. दादा ने टॉस जीता और पहले बैटिंग का फैसला किया. भारत के लिए आकाश चोपड़ा और वीरेंद्र सहवाग ओपनिंग करने आए. सहवाग ने 115 गेंदों का सामना किया और आउट हो गए. उन्होंने 72 रनों की अच्छा पारी खेली. सहवाग आउट हुए राहुल द्रविड़ क्रीज पर पहुंचे. उन्होंने 82 गेंदों का सामना करते हुए 38 रन बनाए और आउट हो गए. टीम इंडिया के ये दोनों बड़े विकेट गिलेस्पी ने झटके. 

Watch Video कितनी आसानी से Rishabh Pant ने रबाडा को गिफ्ट कर दिया अपना विकेट, देखें वीडियो

अब बारी थी मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की. सचिन बैटिंग करने क्रीज पर पहुंचे. वे इस पारी में ऐसा खेले कि ऑस्ट्रेलियाई खेमे के गेंदबाजों की हालत खराब हो गई. ऑस्ट्रेलिया की इस टीम में ब्रेट ली और जेसन गिलेस्पी जैसे खतरनाक गेंदबाज थे. लेकिन कोई भी गेंदबाज सचिन को आउट नहीं कर सका. सचिन ने 436 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 241 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 33 चौके जड़े. अगर सचिन के क्रीज पर खड़े होने के टाइम को देखें तो वे करीब 613 मिनट तक खेले. इस पारी में वीवीएस लक्ष्मण ने उनका पूरा साथ दिया था. लक्ष्मण ने 178 रन बनाए थे.

IND vs SA: टीम इंडिया के लिए ‘लकी’ है वांडरर्स का मैदान, पिछले 26 सालों में एक भी मुकाबला नहीं गंवाया, रिकॉर्ड हैरान कर देंगे

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया था. भारत ने पहली ही पारी में कुल 705 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी. इस दौरान टीम इंडिया ने 7 विकेट गंवाए थे. इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया पहली पारी में 474 रन बनाकर ऑल आउट हो गई. दूसरी पारी में भारत ने 211 रन बनाकर फिर से पारी घोषित की. मैच के आखिरी दिन तक ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 6 विकेट खोकर 357 रन बनाए थे. इस मैच के लिए सचिन ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुने गए थे. 



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *