Cricket Talks: Ravi Shastri का खुलासा, इन 2 खिलाड़ियों की जिद ने दिलाई थी गाबा में ऐतिहासिक जीत


Cricket Talks: टीम इंडिया को पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गाबा में ऐतिहासिक जीत हासिल हुई थी. इस मैच में शुभमन गिल (Shubman Gill) और ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने शानदार बल्लेबाजी कर टीम को जीत दिलाई थी. इस दौरे पर टीम इंडिया के कोच रहे रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने अब दोनों खिलाड़ियों के बीच हुई बातचीत का खुलासा किया है.

एक स्पोर्ट्स चैनल से बातचीत करते हुए रवि शास्त्री ने कहा है, ‘मुझे लगा कि गाबा में आखिरी दिन इतना बड़ा लक्ष्य हासिल करना असंभव है. टी ब्रेक तक हम तीन विकेट गंवा चुके थे. मैं जब टॉयलेट के लिए जा रहा था तब मैंने सुना कि शुभमन और ऋषभ बातें कर रहे हैं. मैं यह तो नहीं बताऊंगा कि वे क्या बातें कर रहे थे लेकिन उनकी बातें सुनने के बाद मैं समझ गया था कि यह दोनों खिलाड़ी मैच जीतने के लिए जा रहे हैं. मैंने उनसे कोई शब्द नहीं कहा और मन ही मन उन्हें ‘बढ़ते रहो’ कहकर वहां से चुपचाप निकल गया.’

शास्त्री ने कहा, ‘मैं इस तरह के क्रिकेट को बढ़ावा देता हूं, जहां आप हार से बचने की कोशिश न करते हुए उसे जीत में तब्दील कर देते हैं. यह वास्तव में एक सबसे बड़ी चोरी होती है. हमने गाबा में यही किया.’

32 सालों में पहली बार गाबा में हारा था ऑस्ट्रेलिया
टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन टेस्ट में दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करते हुए दमदार खेल दिखाया था. आखिरी दिन टीम इंडिया 328 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी. ऑस्ट्रेलिया मजबूत स्थिति में था. मैच के ड्रॉ होने की ज्यादा संभावना थी, लेकिन शुभमन गिल (91) और ऋषभ पंत (89) की आक्रामक पारियों की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हरा दिया था.  इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने सीरीज में भी 2-1 से जीत दर्ज की थी. टीम के सीनियर खिलाड़ियों के बिना भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के गढ़ में जाकर मैच जीता था. ऑस्ट्रेलिया ने यहां 32 साल से कोई मैच नहीं हारा था.

यह भी पढ़ें..

GoodBye 2021: यादगार रहेगा साल 2021, क्रिकेट इतिहास में दूसरी बार भारत ने हासिल किया यह मुकाम

Watch: पुजारा को पकड़-पकड़कर नचाते दिखे अश्विन और सिराज, सेंचुरियन में कुछ ऐसे मना जीत का जश्न



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *