अमेरिका में ट्रेनिंग कर रहे हैं नीरज चोपड़ा, 90 मीटर के थ्रो को रखा टारगेट


Neeraj Chopra Interview: ओलंपिक के इतिहास में भारत को एथलेटिक्स में पहला गोल्ड मेडल दिलाने वाले जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा इन दिनों अमेरिका में हैं और ट्रेनिंग कर रहे हैं. नीरज का अब अगला टारगेट वर्ल्ड चैंपियनशिप, डायमंड लीग, एशियाई खेल और कामनवेल्थ गेम्स में मेडल जीतने का है. नीरज चोपड़ा ने अमेरिका से ABP न्यूज से बात की और तमाम सवालों के जवाब दिए. नीरज चोपड़ा ने साल 2021 को याद करते हुए कहा कि ये वर्ष मेरे लिए बहुत अच्छा रहा. ओलंपिक में स्वर्ण से बड़ा कुछ नहीं है. 

सवाल- गोल्ड मेडल जीतने के बाद जिंदगी कितनी बदल गई है? 

नीरज चोपड़ा- जिंदगी काफी बदल गई है. मुझे देखकर बहुत सारे बच्चे जैवलिन खेलने के लिए आ रहे हैं, ये अच्छी बात है. 

सवाल- आप अगला लक्ष्य क्या है?

नीरज चोपड़ा- 2022 में वर्ल्ड चैंपियनशिप है, डायमंड लीग है, एशियाई खेल और कामनवेल्थ गेम्स है. उसमें अच्छा करना है. मैंने पिछले तीन हफ्ते काफी अच्छी ट्रेनिंग की है. शुरू में फिटनेस थोड़ा कम था, लेकिन धीरे-धीरे फिटनेस वापस आ रही है. 2022 में मुझे और भी अच्छा करना है. कोरोना को लेकर स्ट्रेस हो सकता है , लेकिन मैं तैयार हूं. कोच कहते हैं कि तकनीक पर और ज्यादा ध्यान देंगे तो 90 मीटर का आंकड़ा लगातार क्रॉस कर सकते हैं.  

नीरज चोपड़ा आगे कहते हैं, ‘भारत मे ट्रैक एंड फील्ड में अब बहुत बच्चे आने लगे हैं. पैरेंट्स में अब बहुत बदलाव आया है. ये भारतीय एथलेटिक्स के लिए बहुत अच्छी खबर है.  इलीट लेवल के एथलीटों को ज्यादा से ज्यादा इवेंट्स में हिस्सा लेना चाहिए. 

सवाल- कोविड बढ़ रहा है तो क्या आप मार्च में नैशनल चैंपियनशिप में खेलने के लिए आएंगे?

नीरज चोपड़ा- ये तो कोच तय करेंगे. अभी ट्रेनिंग शुरू की है और ये अभी भी हमलोगों ने तय नही किया है. 
3 साल बाद ओलिंपिक लेकिन उससे पहले भी कई सारे इवेंट्स हैं, उसमें अच्छा प्रदर्शन करना है 

उन्होंने आगे कहा कि 90 मीटर के आंकड़े को छूना बहुत अहम है. मेरा टारगेट वही है, लेकिन मुझपर कोई दबाव नहीं कि उसे हासिल करना ही है. 

सवाल- अमेरिका में आपकी डैली रूटीन क्या होता है?

नीरज चोपड़ा- सुबह उठना, 7.30 बजे ब्रेकफास्ट, फिर प्रैक्टिस और लंच के बाद थोड़ा रेस्ट करते हैं. शाम को फिर से प्रैक्टिस. दिन में दो बार प्रैक्टिस करता हूं. ट्रेनिंग में मजा आ रहा है. लाइफ बहुत सिंपल है. 

नीरज चोपड़ा ने कहा कि ओलंपिक से आने के बाद मैंने खाने पर कोई पाबंदी नहीं लगाई थी. मैंने वजन 12/13 किलो बढ़ा लिया था. अब 5/6 किलो फिर से कम कर लिया हूं.

‘लोगों का अच्छा साथ मिला’

नीरज चोपड़ा ने कहा कि एक एथलिट अपनी जिंदगी के सबसे ज्यादा समय ट्रेनिंग, डाइट को देता है. जब मैं गोल्ड जीतने के बाद देश वापस आया तो लोगों का साथ मिला, अच्छा भी लग रहा था. मैं भी कोशिश कर रहा था कि सबसे अच्छे से मिलूं, बात करूं लेकिन हां ये भी मन मे चल रहा था कि ट्रेनिंग कब से फिर से शुरू होगी. 

ये भी पढ़ें- Ind vs SA: अंपायर से शिकायत कर रहे थे केशव महाराज, कोहली बोले- आउट करेंगे इसको…फिर बुमराह ने कर दिया कमाल

भारतीय टीम के स्टार स्पिनर Kuldeep Yadav को मिली यूपी की कमान, जुलाई में खेला था आखिरी इंटरनेशनल मैच

 



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *