Ashes 2021 में England की शर्मनाक हार के बाद घिरे जो रूट, Geoffrey Boycott बोले- छोड़ दो कप्त


Geoffrey Boycott asks Joe Root to give up England Test Captaincy: एशेज सीरीज (Ashes) के शुरुआती तीन मैच हारने के बाद इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) निशाने पर हैं. इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी ज्योफ्री बॉयकॉट (Geoffrey Boycott) ने रूट की आलोचना करते हुए कहा है कि उन्हें कप्तानी छोड़ देनी चाहिए. बॉयकॉट रूट पर निशाना साधते हुए कहा कि उनमें सोच की कमी है. उन्होंने ये भी कहा कि रूट ये कहना छोड़ दें कि ऑस्ट्रेलिया हमसे बहुत ज्यादा बेहतर नहीं है. 

इंग्लैंड टीम को मेलबर्न में खेले गए सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में पारी और 14 रनों से हार का सामना करना पड़ा. रूट की कप्तानी वाली ये टीम तीन दिन में ही ऑस्ट्रेलिया के सामने घुटने टेक दिए. पूरी टीम दूसरी पारी में महज 68 रनों पर सिमट गई. रूट ने सबसे ज्यादा 28 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया के लिए स्कॉट बोलैंड ने 6 और मिचेल स्टार्क ने 3 विकेट लिए. इसी के साथ इंग्लैंड सीरीज में 0-3 से पीछे हो गई है.

बॉयकॉट ने कहा कि अब ऑस्ट्रेलिया 3-0 से आगे है और एशेज हमारे हाथ से जा चुकी है, क्या रूट कृपया यह कहना बंद कर देंगे कि ऑस्ट्रेलिया हमसे बेहतर नहीं है? वे हमें बच्चा बनाने की कोशिश करना बंद करें. अगर वह वास्तव में जो कहते हैं उस पर विश्वास करते हैं तो शायद यही समय है कि उन्हें इंग्लैंड क्रिकेट टीम की कप्तानी छोड़ देनी चाहिए. 

उन्होंने आगे कहा कि हम में से कई लोग इन इंटरव्यू से थक चुके हैं जहां जो कहते हैं कि इंग्लैंड बुरे दिन से सीखेगा या जो कहते हैं कि उन्हें खराब प्रदर्शन के बाद प्रतिक्रिया की उम्मीद है. हम पूर्व खिलाड़ियों और क्रिकेट समर्थकों को बेवकूफ बनाना बंद करो. 

इंग्लैंड के लिए खराब रहा है ये साल

इंग्लैंड टेस्ट टीम के लिए ये साल खराब रहा है. उसे साल 2021 में 9 टेस्ट मैचों में हार मिली है. एक साल में सबसे ज्यादा टेस्ट मैचों में हार का सामना करने के मामले में उसने बांग्लादेश की बराबरी कर ली है. हालांकि बल्लेबाज के तौर पर रूट के लिए ये साल अच्छा रहा है. उन्होंने 15 टेस्ट मैचों में 61 की औसत से 1708 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 6 शतक और 4 अर्धशतक निकले हैं. 

बॉयकॉट का मानना है कि इंग्लैंड एक टीम के तौर पर अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है. टीम बल्लेबाजी में ज्यादातर रूट और स्टोक्स पर निर्भर करती है तो गेंदबाजी में स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन पर. रूट ने साल 2016 में इंग्लैंड टीम की कप्तानी संभाली थी. एलिस्टर कुक के इस्तीफा देने के बाद उन्हें ये जिम्मेदारी सौंपी गई थी. रूट की कप्तानी में इंग्लैंड टीम 59 टेस्ट मैच खेली है, जिसमें से 27 में उसे जीत मिली है. 

ये भी पढ़ें- Ind vs SA: 200 विकेट लेने के बाद पिता को याद करते भावुक हुए Mohammad Shami, सुनाई संघर्ष की कहानी

Ind vs SA: Shami के 200 विकेट लेने पर पूर्व कोच Ravi Shastri गदगद, बोले- शाबाश बंगाल के सुल्तान, देखकर मजा आ गया

 



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *