रहाणे या अय्यर, पहले टेस्ट में पांचवें नंबर पर कौन करेगा बल्लेबाज़ी? केएल राहुल ने दिया ये जवाब



<p style="text-align: justify;"><strong>India vs South Africa Boxing Day Test:</strong> भारतीय क्रिकेट टीम के उपकप्तान केएल राहुल ने स्वीकार किया कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 26 दिसंबर से शुरू होने वाले पहले टेस्ट में पांचवें नंबर पर कौन बल्लेबाजी करेगा, यह फैसला करना बहुत मुश्किल होगा. उन्होंने कहा कि टीम आज या कल इस बारे में बात करना शुरू कर देगी. पांचवें नंबर पर लंबे समय से अजिंक्य रहाणे बल्लेबाजी कर रहे हैं, लेकिन उनकी खराब फॉर्म जारी है. ऐसे में हनुमा विहारी और श्रेयस अय्यर इस स्थान के लिए दावेदार हैं.</p>
<p style="text-align: justify;">केएल राहुल ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "यह एक बहुत ही कठिन फैसला है. मुझे लगता है कि अजिंक्य रहाणे हमारी टेस्ट टीम का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा रहे हैं और उन्होंने अपने करियर में बहुत ही महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं. उन्होंने जिस तरह की पारी मेलबर्न में खेली थी, उससे वास्तव में हमें टेस्ट मैच जीतने में मदद की."</p>
<p style="text-align: justify;">उन्होंने आगे कहा, "उन्होंने लॉर्डस में दूसरी पारी में पुजारा के साथ साझेदारी की, जहां उन्होंने एक अर्धशतक बनाया, जिसके बाद हमने वह टेस्ट मैच भी जीता था. इसलिए, वह मध्य क्रम में हमारे लिए एक प्रमुख और मजबूत खिलाड़ी रहे हैं."</p>
<p style="text-align: justify;">राहुल ने कहा, "श्रेयस अय्यर ने कानपुर में शानदार पारी खेली और शतक बनाया, इसलिए वह भी इस नंबर के लिए दावेदार हैं. वहीं, हनुमा विहारी ने भी हमारे लिए अच्छा किया है. यह एक कठिन निर्णय है और आज या कल इस पर बातचीत की जाएगी."</p>
<p style="text-align: justify;">राहुल ने कहा कि सेंचुरियन की पिच की प्रकृति धीमी और तेज है. यहां तक कि पिछली बार जब हम यहां खेले थे तो पिच थोड़ी धीमी भी थी. मुझे लगता है कि हम इस सेंचुरियन पिच के लिए जो भी जानकारी इकट्ठा कर सकते हैं तो वह कर रहे हैं. यहां हम उसी के हिसाब से तैयारी कर रहे हैं."</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>राहुल ने पांच गेंदबाजों के साथ उतरने के दिए संकेत</strong></p>
<p style="text-align: justify;">राहुल ने पांच गेंदबाज के साथ मैदान पर उतरने को सही बताया है, जिसने हाल के विदेशी दौरों में भारत को सफलता दिलाई है. उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि ज्यादातर टीमों ने पांच गेंदबाजों को मौका देना शुरू कर दिया है और हर टीम 20 विकेट लेना चाहती है और यही एकमात्र तरीका है जिससे आप एक टेस्ट मैच जीत सकते हैं."</p>
<p style="text-align: justify;">29 वर्षीय राहुल ने कहा कि उपकप्तान के तौर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, लेकिन फील्डिंग के दौरान उन्हें और थोड़ा ज्यादा काम करना होगा. बता दें कि राहुल ने भारत के इंग्लैंड दौरे में 2-1 से आगे बढ़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. उन्होंने आठ पारियों में 39.37 की औसत से 315 रन बनाए थे. वह इंग्लैंड में अपने किए गए अच्छे प्रदर्शन को दक्षिण अफ्रीका में भी दोहराना चाहेंगे.</p>
<p><iframe class="abpembed" src="https://www.abplive.com/sharewidget/sports.html" width="100%" height="721px" frameborder="0" scrolling="no"></iframe></p>



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *