पटना पायरेट्स का रहा है दबदबा, लगातार पांच बार अंतिम चार में बनाई है जगह


Pro Kabaddi League Champions list: साल 2014 में इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के आधार पर शुरू हुई प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) में अब तक 7 सीजन हो चुके हैं. इस लीग की सबसे सफल टीम पटना पायरेट्स (Patna Pirates) हैं जिन्होंने लगातार तीन बार खिताब जीतकर हैट्रिक पूरी की है. चार सीजन तक 8 टीमों के बीच होने वाले खिताबी पंगे को पांचवें सीजन से बढ़ा दिया गया. सीजन पांच में गुजरात जायंट्स (Gujrat Giants), हरियाणा स्टीलर्स (Haryana Steelers), तमिल थलाइवाज (Tamil Thalaivas) और यूपी योद्धा (UP Yoddha) की एंट्री हुई. तब से अभी तक 12 टीमों के बीच मुक़ाबले होते हैं. चलिए जानते हैं कि किस टीम ने कब खिताब जीता और कौन सी टीम खिताब से चूक गई.

सीजन-1 जयपुर पिंक पैंथर्स

पहले सीजन में जयपुर पिंक पैंथर्स (Jaipur Pink Panthers), यू मुंबा (U Mumba), बेंगलुरु बुल्स (Bengaluru Bulls) और पटना पायरेट्स ने सेमीफाइनल्स के लिए क्वालिफाई किया. पहले सेमीफाइनल में पटना पायरेट्स को हराकर पिंक पैंथर्स ने फाइनल में जगह बना ली, जबकि दूसरे सेमीफाइनल में यू मुंबा ने रोमांचक मुक़ाबले में बेंगलुरु बुल्स को हराया. फाइनल में जयपुर पिंक पैंथर्स ने यू मुंबा को एक तरफा मुक़ाबले में हराकर खिताब अपने नाम कर लिया.

सीजन- 2 यू मुंबा

दूसरे सीजन में यू मुंबा, तेलुगु टाइटंस, बेंगलुरु बुल्स और पटना पायरेट्स ने सेमीफाइनल्स में जगह बनाई. पहले सेमीफाइनल में बेंगलुरु बुल्स और तेलुगू टाइटंस (Telugu Titans) के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली लेकिन आखिरी में एक अंक से बेंगलुरु ने जीत के साथ फाइनल में जगह बनाई. दूसरे सेमीफाइनल में पटना को यू मुंबा ने हराया. खिताबी मुक़ाबले में यू मुंबा ने बेंगलुरु बुल्स को हराकर खिताब अपने नाम किया.

सीजन- 3 पटना पायरेट्स

साल 2016 में प्रो कबड्डी लीग के तीसरे सीजन यू मुंबा और पटना पायरेट्स ने लगातार तीसरी बार सेमीफाइनल में जगह बनाई, साथ में पुनेरी पलटन और बंगाल वॉरियर्स (Bengal Warriors) पहली बार अंतिम चार में पहुंचीं. पटना ने इस बार पुनेरी पलटन (Puneri Paltan) को एक तरफा मुक़ाबले में हराकर पहली बार फाइनल का टिकट हासिल किया. दूसरी ओर यू मुंबा फिर से फाइनल तक पहुंचने में सफल रही. फाइनल में पटना पायरेट्स ने यू मुंबा को हराकार खिताब जीत लिया.

सीजन- 4 पटना पायरेट्स

साल 2016 में ही प्रो कबड्डी लीग का चौथा सीजन खेला गया, जिसमें पटना ने लगातार चौथी बार अंतिम चार के लिए क्वालीफाई किया. जयपुर पिंक पैंथर्स, तेलुगू टाइटंस और पुनेरी पलटन की टीमें दूसरी बार सेमीफाइनल में पहुंचीं. सेमीफाइनल में पटना पायरेट्स और जयपुर पिंक पैंथर्स ने जीत के साथ खिताबी मुक़ाबले में जगह बनाई, जहां पटना वे पिंक पैंथर्स के हराकर लगातार दूसरा खिताब जीता.

सीजन- 5 पटना पायरेट्स

साल 2017 में प्रो कबड्डी लीग के पांचवें सीजन में 12 टीमों के बीच मुक़ाबले हुए और ग्रुप A से गुजरात जायंट्स, पुनेरी पलटन और हरियाणा स्टीलर्स ने प्लेऑप्स में जगह बनाई, तो ग्रुप B से बंगाल वॉरियर्स, पटना पायरेट्स और यूपी योद्धा ने क्वालीफाई किया. गुजरात जायट्स ने फाइनल के लिए क्वालीफाई किया, तो पटना की टीम खिताब डिफेंस करने के इरादे से फाइनल में पहुंची, जहां उन्होंने गुजरात को मात दी और खिताबी जीत की हैट्रिक लगा दी.

सीजन- 6 बेंगलुरु बुल्स

साल 2018 में पहली बार पटना पायरेट्स की टीम ग्रुप स्टेज से आगे नहीं बढ़ सकी. गुजरात जायट्स ने फिर से प्लेऑफ्स के लिए क्वालीफाई किया. इसके अलावा यूपी योद्दा, दबंग दिल्ली, बेंगलुरु बुल्स, बंगाल वॉरियर्स और यू मुंबा ने भी प्लेऑफ्स में जगह बनाई. फाइनल मुक़ाबले में गुजरात जायंट्स और बेंगलुरु बुल्स की टक्कर हुई, जहां बेंगलुरु बुल्स ने जीत के साथ पहली बार खिताब पर कब्जा किया.

सीजन- 7 बंगाल वॉरियर्स

सीजन 7 में प्रो कबड्डी लीग का प्रारूप फिर से बदला और एक ही ग्रुप में सभी टीमों को रखा गया, जहां एक दूसरे के खिलाफ सभी टीमों को 2-2 मुक़ाबले खेलने थे. दबंद दिल्ली, बंगाल वॉरियर्स, यूपी योद्धा, यू मुंबा, हरियाणा स्टीलर्स और बेंगलुरु बुल्स ने प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई किया. दबंग दिल्ली केसी और बंगाल वॉरियर्स ने क्वालीफायर्स में जीत दर्ज करते हुए फाइनल का टिकट हासिल किया. फाइनल में बंगाल वॉरियर्स ने दबंद दिल्ली (Dabang Delhi KC) को हराकर पहली बार चैंपियन बनी. इस तरह अभी तर सिर्फ पटना पायरेट्स ही ऐसी टीम है जिसने एक से अधिक खिताब जीता है. जबकि हरियाणा, स्टीलर्स, यूपी योद्धा, गुजरात जायंट्स,तेलुगू टाइटंस, तमिल थलाइवाज, दबंद दिल्ली और यूपी योद्दा ने एक बार भी खिताब नही जीता है.

 



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *