एशेज के पहले टेस्ट में Ben Stokes ने फेंकीं 14 नो बॉल, लेकिन अंपायर्स ने नहीं दिया ध्यान


Ashes 2021 News: इंग्लैंड (ENG) और ऑस्ट्रेलिया (AUS) के बीच गाबा (Gabba) के मैदान पर एशेज सीरीज (Ashes Series 2021) का पहला टेस्ट मुकाबला खेला जा रहा है. पहले दिन इंग्लैंड की टीम पहली पारी में महज 147 रनों पर ऑल आउट हो गई. जबकि दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट खोकर 300 रन बना लिए हैं. ऑस्ट्रेलिया की टीम बड़ी बढ़त हासिल कर चुकी है. हालांकि इस मैच की अंपायरिंग को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं. पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ने मैच में खराब अंपायरिंग की आलोचना की है. 

बेन स्टोक्स ने 14 नो बॉल फेंकीं 
ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) इंग्लैंड के बेन स्टोक्स (Ben Stokes) की गेंद पर 17 रनों पर आउट करार दिए गए, लेकिन बाद में चेक किया तो वह नो बॉल निकली. इस तरह उन्हें जीवनदान मिला और वॉर्नर ने 94 रनों की शानदार पारी खेली. बाद में पता चला कि स्टोक्स ने उस ओवर में ज्यादातर गेंद नो बॉल फेंकीं, जिन पर अंपायरों ने ध्यान नहीं दिया. इतना ही नहीं स्टोक्स ने 14 नो बॉल फेंकीं, लेकिन अंपायरों ने लापरवाही बरती. लंबे समय बाद स्टोक्स ने मैदान पर वापसी की है और ऐसे में वहां लाइन और लेंथ के लिए संघर्ष करते नजर आए. 

खराब अंपायरिंग पर भड़के रिकी पोंटिंग
पहले टेस्ट मुकाबले में खराब अंपायर को लेकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग भड़क गए. उन्होंने एक चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि जिस व्यक्ति को नो बॉल चेक करने की जिम्मेदारी दी गई है, अगर वह ऐसा नहीं करता तो यह खराब अंपायरिंग है. अंपायर बेन स्टोक्स पर पहले ध्यान देते तो शायद वे ऐसी बॉल नहीं डालते और वॉर्नर का विकेट मिल जाता. पोंटिंग ने कहा कि वे यह जानना चाहते हैं कि आखिर अंपायर्स ने नो बॉल चेक करना क्यों जरूरी नहीं समझा. 

यह भी पढ़ेंः IND vs SA: भारतीय टीम के नए वनडे कप्तान Rohit Sharma को लेकर आईसीसी का बड़ा रिएक्शन, जानें इस फैसले पर क्या कहा

IND vs SA: अजिंक्य रहाणे से छीनी गई उपकप्तानी, टेस्ट टीम में मिली जगह, लेकिन प्लेइंग इलेवन से रह सकते हैं बाहर





Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *