मुंबई टेस्ट में प्लेइंग इलेवन के चयन को लेकर विराट कोहली बोले- फैसले लेना मुश्किल नहीं


India vs New Zealand Mumbai Test: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट के लिए टीम में बदलाव के बारे में कड़ा फैसला लेना बहुत मुश्किल नहीं होगा. वह खिलाड़ी और टीम की आवश्यकताओं के बारे में अच्छे से जानते हैं, जो मैच में फैसले लेने में एक बड़ी भूमिका निभाएंगे.

बता दें कि कोहली के एक छोटे ब्रेक के बाद टीम में वापसी के साथ टीम इंडिया को अपने बल्लेबाजी क्रम को फिर से मजबूत करना होगा. कोहली और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को यह तय करना होगा कि कानपुर टेस्ट खेलने वाली प्लेइंग इलेवन टीम में किसे बाहर किया जाए.

कोहली ने गुरुवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “आपको स्पष्ट रूप से उस स्थिति को समझना होगा जहां टीम को रखा गया है. आपको यह समझना होगा कि खिलाड़ी कहां खड़ा है, आपको परिस्थितियों को समझना होगा और आपको अच्छी तरह से संवाद करना होगा. टीम में विश्वास करना मुश्किल नहीं है.” उन्होंने आगे कहा, “टीम के खिलाड़ियों को एक-दूसरे पर भरोसा है और वे समझते हैं कि टीम की स्थिति और जरूरत के हिसाब से फैसला लिया जाएगा.”

कोहली की जगह प्लेइंग इलेवन में आए मुंबई के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने डेब्यू पर शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक बनाकर टीम में शानदार प्रदर्शन किया. वहीं चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे और सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने उतने रन नहीं बनाए, जितना उनसे उम्मीद की गई थी.

कोहली ने कहा कि टीम प्रबंधन वानखेड़े टेस्ट के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर अंतिम फैसला करने से पहले सभी विकल्पों पर चर्चा करेगा और मौसम की स्थिति को ध्यान में रखते हुए बदलाव पर काम करेगा.

भारतीय कप्तान कोहली ने कहा कि वह वानखेड़े स्टेडियम में बल्लेबाजी करने के लिए उत्सुक थे, जहां उन्होंने एक बड़ा दोहरा शतक बनाया था जब भारत ने आखिरी बार मुंबई में एक टेस्ट खेला था. 

कोहली ने कहा कि उन्होंने हमेशा अपनी पारियों और उनके प्रभाव से आत्मविश्वास हासिल करने में विश्वास किया है. कोहली ने कहा कि कड़ी मेहनत और ²ढ़ता से खिलाड़ियों को फॉर्म में वापस आने में मदद मिलती है.



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.