अजिंक्य रहाणे के नाम है ये शानदार रिकॉर्ड, उनके अलावा कोई भारतीय कप्तान नहीं कर पाया ये काम


IND vs NZ: कम से कम 5 टेस्ट मैचों में कप्तानी करने वाले भारतीय खिलाड़ियों (Indian Players) में अजिंक्य रहाणे का रिकॉर्ड ही सबसे बेहतरीन है. न्यूजीलैंड के खिलाफ कानपुर टेस्ट मैच से पहले अब तक जिन 5 मुकाबलों में रहाणे ने कप्तानी की हैं उनमे से 4 मुकाबलों में टीम ने जीत दर्ज की है.

विराट कोहली पिछले कुछ सालों में जब -जब चोट के लिए मैच नही खेल पाएं या फिर व्यकिगत कारणों की वजह से रेस्ट लिया तब स्टैंड बाई कप्तान के तौर पर ही रहाणे को टीम की अगुवाई करने का मौका  मौका और रेहाणे ने उन मौकों पर अपने शानदार प्रदर्शन कर खुद को साबिक भी किया है. 

सबसे पहले उन्हें साल 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला के चौथे टेस्ट मैच में कप्तानी करने का मौका मिला था. और तब सीरीज 1-1 की बराबरी पर थी. आखरी टेस्ट मैच में अजिंक्य रहाणे ने टीम में जडेजा और अश्विन के रहते हुए भी कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने का फैसला लिया और ये निर्णय सही साबित हुआ था. कुलदीप ने ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 4 विकेट लिए थें और धर्मशाला में ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू भी किया था. 

24 रन बनाकर की थी जीत दर्ज 

साल 2020-21 सीजन में एडिलेड टेस्ट मैच में सिर्फ 36 रनों पर ऑल आउट हो जाने के बाद जिस तरह से रहाणे की कप्तानी में टीम इंडिया ने कॉम बैक किया है इसकी कल्पना शायद ही किसी ने की थी. उस वक्त विराट कोहली एडिलेड टेस्ट मैच के बाद व्यक्तिगत कारणों की वजह से खेल नही पाएं थे और रहाणे को कप्तानी का मौका मिला. इस मौके पर उन्होंने मेलबोर्न में शतकीय पारी खेलने के साथ साथ टीम इंडिया को जीत दिलाई और आखरी टेस्ट मैच के आखरी दिन ब्रिसबेन में टीम इंडिया एक दिन में 324 रन बनाकर जीत दर्ज की थी. ऑस्ट्रेलिया में इस सीरीज जीत को भारतीय क्रिकेट की इतिहास ने सबसे यादगार जीतों में से एक माना जाता है, और रहाणे ने ये कारनामा टॉप के 7/8 खिलाड़ियों के बिना ही हासिल किए थें.

रहाणे ने 5 मुक़ाबलों में की है कप्तानी

ऑस्ट्रेलिया के अलावा अफगानिस्थान के खिलाफ भी टेस्ट मैच में कप्तान के तौर पर रहाणे के नाम जीत दर्ज करने का श्रेय जाता है. रहाणे ने जिन 5 मुक़ाबलों में कप्तानी की है उनमें से 4 में भारत जीत दर्ज की है और 1 टेस्ट मैच ड्रॉ रहा जो की सिडनी में खेला गया था. इसीलिए जीतने का रिकॉर्ड देखा जाए तो ये 80 फीसदी है और कम से कम 5 मैचों में कप्तानी करने वाले कोई भी भारतीय टेस्ट कप्तान की विनिंग परसेंटेज इतना ज्यादा नही है.

ये भी पढ़ें: 

IND vs NZ 1st Test: अब तक भारत में सीरीज नहीं जीत पाई है न्यूजीलैंड, 65 सालों में जीते केवल 2 मुकाबले

Australia Captaincy Debate: माइकल क्लार्क बोले- ऑस्ट्रेलिया के लिए परफेक्ट कैप्टन खोजने लगोगे तो 15 साल तक कोई नहीं मिलेगा



Source link

Recommended For You

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *